Anna commented on Modi | Hindibaaj.com Leading Hindi Online Magazine
मुख पृष्ठ / समाचार / नेशन / मोदी को प्रधानमंत्री नहीं बनना चाहिए था - अन्ना हज़ारे

 

भोपाल/नई दिल्ली.  बातचीत में वे सरल और बेबाक अन्ना हजारे ने मोदी पर दी गयी टिपणी पर अपना बयां रखा  । 79 वर्ष के अन्ना की जिंदगी के कितने ही दौर जीवंत हुए। विवाह के सवाल पर मजाक से लेकर उनके जीवन पर बनी फिल्म 'अन्ना' और नरेंद्र मोदी तक, हर मुद्दे पर वे अपनी बेबाक राय रखते है । "आज की स्थिति देखकर लोग परेशान होते हैं, लेकिन सोचते हैं कि मैं अकेला क्या कर सकता हूं। यह सोच गलत है। मुझे देखिए। क्या है मेरे पास? धन-दौलत, सत्ता कुछ भी तो नहीं है। इसके बावजूद मैंने आठ कानून बनवाए। सूचना का अधिकार दिलाने वाला कानून बनवाया। मेरे अनशन की वजह से भ्रष्ट मंत्रियों अौर नेताओं को पद से हटना पड़ा। मैंने विवाह नहीं किया, लेकिन मेरा परिवार बहुत बड़ा है। मैंने समाज को, देश को अपना परिवार बना लिया।" अन्ना के इन विचारो से लगता है की देश में कोई ऐसा व्यक्ति होना जरुरी है जो बिना सिस्टम में रह कर सिस्टम के खिलाफ बोल सके 

 

 

अन्ना ने कहा था की वो प्रधानमंत्री बनने योग्य नहीं है

 

मोदी पर दी गयी टिपण्णी पर जब उनसे पूछा गया तो उनका जवाब था की- "मैंने ऐसा कभी नहीं कहा था। मुझसे पत्रकारों ने पूछा था कि पीएम के तौर पर राहुल गांधी और नरेंद्र मोदी में से आपकी पसंद कौन? मैंने सिर्फ इतना कहा था कि दोनों के ही मन में कारोबार और उससे जुड़े इंडस्ट्रियलिस्ट हैं। इनकी जगह किसान और समाज होना चाहिए।"